Monday, March 26, 2018

Latest Hindi Pahaliya 2018 with Answer for Children

1.शीश कटे तो गल जाता
बिना पावं  के जंग छिडाता
नही व्यक्ति रहते इसमे
जानवर -पक्षी और पेड का नाता |



2.हर घर मे जाता हूँ ,
बच्चो को खूब मैं  भाता हुईं |
सब का मैं बना हूँ  मैं मामा ,
किन्तु हाथ किसी के ना आता हूँ |



3.राजा ने महल बनाया ,
ताल नही ,मगर नाम खाया |
जो कोई उस महल मे जाए,
पड़ा रहे तथा रोग भगाए |

हस्पताल

4.बोतल मे है एक बंद जिन ,
घातक जहर मे नही अभिन्न ,
जो भी खोले उसी का हो नाश ,
मुझसे दूर ही रहना आप |



5.छोटी -सी है कोठरी ,
जिसमे नही कोई इंसान ,
फिर भी वो करे ,
सदैव गाने का काम |



6.पैरो  मे कीले ,
गढवा इठलाता कौन ,
लोहा मुख मे दबा ,
दौड़ लगता कौन | |


7.हाथ पावं को एक कहो ,
पेट है मेरा देखो गहरा ,
मेरा मालिक भी सो जाए,
तो फिर भी देता पहरा |



8.तीन पावं की चम्पा रानी ,
रोज नहाने जाती |
दल भात का मजा न जाने ,
कच्चा आटा खाती ||



9.बन्दर मेरा मजा न जाने ,
आप बताओ तो जानू |
चाय सब्जी के अन्दर डलता हूँ
भूख लगाना मै जानू | | ,



10.माटी मे जीवन .है पाती,
धरती नमे मैं रहती ,
लेकिन जब दाने पा जाती ,
घनी मे जब पीसी जाती ||




1.जंगल









2.चन्दा मामा










3.हस्पताल











4.शराब












5.रेडियो













6.घोडा,









7.नाव












8.चकला












9.अदरक










10.मूंगफली