Sunday, March 18, 2018

Latest Pahaliyan in Hindi for school kids

1.हाथ -पावं व् पंख नही
अग्नि है इसकी माता |
हवा के सहारे उपर -नीचे ,
रुई -सा बिछ जाता

2.वनों की रोनक हूँ
सब्ज -सी परी |
जो भी कह दो ,वो रट लूँ ,
यह है कारीगिरी |

3.एक स्त्री के दो बेटे
दोनों ही सदा  रहते है लेटे|
चले यदि एक अकेला ,
दोनों का साथ अलबेला |


4.तीन आखर का मेरा नाम ,
वन -उपवन हटा है मेरा धाम |
बीच कटा तो बनी लड़ी ,
शुरू कटे पर कड़ी -कड़ी |


5.राजा के साथ दो मंत्री  है ,
ले दो -दो घोड़े ,हाथी व् ऊंट |
एक -एक इन  सब  के आगे ,
खड़े हुए है सैनिक  रंगरूट |


6.चढ़े  कंठ पर हुडदंग करे ,
तरलो मे है बदनाम |
आदत मे ये शुमार है ,
बतलाओ मेरा नाम | |

7.हरा रंग ,तन  पती का है ,
सबको मैं हैरान करूं |
रंग घोलकर  मुझे सजाओ ,
तब मै देह को लाल करूं |


8.तीन मेरे है हाथ ,
एक पावं है टंगा रहता  उल्टा ,
जब देखो  तो चक्कर काटू |
सब को राहत पहुचाता | |


9.पप्पू  राजा घर  मे बैठे है ,
रूठे है कुछ न बोले |
कान उमेठो ,तुरन्त माने ,
झटपट अपना मुहँ  खोले |

10.मोटा पेट है मेरा भाई ,
मुख  है मेरा छोटा  गोल |
प्यासे की मै प्यास  बुझओ,
रहस्य फटाफट मेरा खोल | |




1.धुआ










2.तोता










3. चक्की के पाट











4.लकड़ी










5.शतरंज










6.शराब










7.महेंदी










8.पंखा








9.रेडियो










10.मटका